चंबल नदी

  • उद्गम – मालवा के पठार पर स्थित जनापाव पहाडी से,
  • राज्य – राजस्थान, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश
  • लबाई – 965 किमी ,
  • महाना – यमुना नदी , उत्तर प्रदेश
  • तट पर स्थित शहर – इंदौर जिला, महू
  • परमुख परियोजना – चंबल घाटी परियोजना (गांधी सागर, राणा सागर, जवाहर सागर और कोटा बैराज (कोटा))
  • परपात – चूलीय जल प्रपात
  • सहायक नदियां – बनास नदी, क्षिप्रा नदी,मेज , बामनी , सीप काली सिंध, पार्वती, छोटी कालीसिंध, कुनो, ब्राह्मणी, परवन नदी इत्यादि चम्बल की सहायक नदियाँ हैं।
  • अपवाह तंत्र – इसका उद्गम स्थल जानापाव की पहाडी (मध्य प्रदेश) है। यह दक्षिण में महू शहर के, इंदौर के पास, विंध्य रेंज में मध्य प्रदेश में दक्षिण ढलान से होकर गुजरती है। चंबल और उसकी सहायक नदियां उत्तर पश्चिमी मध्य प्रदेश के मालवा क्षेत्र के नाले, जबकि इसकी सहायक नदी, बनास, जो अरावली पर्वतों से शुरू होती है इसमें मिल जाती है। चंबल, कावेरी, यमुना, सिन्धु, पहुज भरेह के पास पचनदा में, उत्तर प्रदेश राज्य में भिंड और इटावा जिले की सीमा पर शामिल पांच नदियों के संगम समाप्त होता है।

[WPSM_AC id=699]

અમારી TELEGRAM ચેનલમાં જોડાઓ
Stay connected with www.rajasthanptet.in/ for latest updates
Sponsored ads.

No comments

Powered by Blogger.