-->

सोलिडेरिटी कप | Solidarity Cup

3T Cricket 'सोलिडेरिटी कप' क्या है और इसके क्या नियम हैं? 

क्रिकेट की दुनिया में 18 जुलाई 2020 को एक नया अध्याय जुड़ गया जब कोविड-19 महामारी के खिलाफ जंग के लिए फंड इकट्ठा करने के लिए ‘3T क्रिकेट सॉलिडेरिटी कप’ का आयोजन दक्षिण अफ्रीका बोर्ड द्वारा किया गया. इसमें 2 नहीं बल्कि तीन टीमों ने हिस्सा लिया था. आइये इस लेख में जानते हैं कि 3T Cricket के क्या नियम हैं?

3 T cricket meaning in Hindi

क्रिकेट और फुटबॉल की दीवानगी को देखते हुए दुनिया में बहुत से चैरिटी मैच होते रहते हैं. जिनकी मदद से बहुत सा धन किसी विशेष उद्येश्य के लिए इकठ्ठा किया जाता है. आपने इससे पहले रिटायर्ड क्रिकेट खिलाडियों और टेनिस खिलाडियों के चैरिटी मैच देखे भी होंगे.

ऐसा ही चैरिटी मैच 18 जुलाई को दक्षिण अफ्रीका बोर्ड द्वारा खेला गया था जिसे 3T क्रिकेट सॉलिडेरिटी कप कहा गया है. इसमें सॉलिडेरिटी का मतलब कोविड 19 से निपटने के लिए सभी की भागीदारी और दृढ निश्चय से है. इसमें विजेता टीम को स्वर्ण पदक दिया गया है.


Solidarity Cup


3T क्रिकेट सॉलिडेरिटी कप में टीमें:-

इस कप में 3 टीमों ने हिस्सा लिया था जिनके नाम हैं;

  1. काइट्स : क्विंटन डी कॉक (कप्तान)
  2. किंगफिशर्स: हेनरिक क्लासेन (कप्तान) और 
  3. ईगल्स: एबी डीविलियर्स (कप्तान)

इस मैच का परिणाम भी आ चुका है और डिविलियर्स की ईगल्स टीम ने 160/4 का स्कोर बनाकर गोल्ड मेडल जीता है इसके बाद काइट्स टीम ने 138/3 का स्कोर बनाकर सिल्वर मेडल जीता और हेनरिक क्लासेन की टीम ने 113/5 का स्कोर बनाकर कांस्य पदक जीता है.

3T क्रिकेट नियम (3T Cricket Rules):-

  1. इसमें टॉस नहीं होगा और कौन टीम पहले, दूसरे और तीसरे नंबर पर खेलेगी इसका फैसला ड्रा के आधार पर किया जायेगा.
  2. इस मैच में कुल 3 टीमों के 24 खिलाडी हिस्सा लेंगे अर्थात एक टीम में केवल 8 खिलाड़ी होंगे.
  3. पूरे मैच के केवल 36 ओवर होंगे अर्थात हर टीम को 12 ओवर खेलने के लिए मिलेंगे, एक टीम, एक बार में 6 ओवर खेलेगी.
  4. पूरे मैच में 2 हाफ होंगे और पहले हाफ में हर टीम 6 ओवर खेलेगी दूसरे में हाफ में बचे हुए 6 ओवर खेलेगी अर्थात हर हाफ में 3 टीमों द्वारा 18 ओवर फेंके जायेंगे.
  5. एक खिलाडी को केवल 3 ओवर फेंकने की अनुमति होगी.
  6. इसमें जो टीम पहले हाफ में सबसे ज्यादा रन बनाएगी उसको सेकंड हाफ में पहले बैटिंग करने का मौका मिलेगा और जो टीम सबसे कम रन बनाएगी उसको तीसरे नंबर पर बैटिंग करने का मौका मिलेगा.यदि 2 टीमों ने पहले हाफ में बराबर स्कोर बनाया है तो जो टीम पहले हाफ में पहले बैटिंग करेगी उसको सेकंड हाफ में दूसरे नंबर पर बैटिंग करनी होगी. 
  7. इसका एक मजेदार नियम यह है कि यदि किसी टीम के 7 खिलाड़ी पहले हाफ में आउट हो जाते हैं और 'एक खिलाडी' बचता है तो जब यही टीम दुबारा बल्लेबाजी करने के लिए सेकंड हाफ में आती है तो 'यही नॉट आउट' खिलाडी ही बल्लेबाजी करना शुरू करता है. यदि सेकंड हाफ में भी 7 विकेट गिर जाते हैं तो 8 वां खिलाडी अकेले खेल सकता है लेकिन वह केवल 'इवन नंबर' (2,4,6) में ही रन बना सकता है जैसे वह केवल दौड़कर 2 रन ले सकता है, 1 या 3 रन नहीं ले सकता है. हालाँकि वह चौका का छक्का भी लगा सकता है.

मैच में जीत का फैसला कैसे होगा?

जिस टीम ने दोनों हाफ में कुल मिलाकर सबसे अधिक रन बनाये हैं वह विजेता घोषित होगी और उसे गोल्ड मेडल दिया जायेगा और जो टीम इसके बाद सबसे अधिक रन बनाएगी उसको सिल्वर मेडल और लास्ट टीम को ब्रोंज मेडल दिया जायेगा.

संभावना 1:- अगर तीनों टीमों ने बराबर के स्कोर बनाये हैं तो तीनों को विजेता घोषित करके गोल्ड मेडल दिया जायेगा.

संभावना 2:-अगर दो टीमों ने 150-150 रन बनाये हैं और एक टीम ने 100 तब क्या होगा?
ऐसी स्थिति में बराबर स्कोर वाली टीमों के बीच सुपर ओवर खेला जायेगा और इसमें ज्यादा रन बनाने वाली टीम जीतेगी.

संभावना 3:-अगर एक टीम ने 120 रन बनाये और अन्य दो टीमों ने 100-100 रन बनाये तो ऐसी स्थिति में 120 रन बनाने वाली टीम को गोल्ड और 100 रन वाली टीमों को सिल्वर मेडल दे दिया जायेगा.

तो ये थी 3T क्रिकेट नियम के बारे में कुछ जानकारी. उम्मीद है कि ये नया फॉर्मेट आपको पसंद आया होगा।

पोस्ट अच्छी लगी हो तो शेयर जरुर कीजिए।

Related Articals